सेक्स जेहाद की गोल्ड मेडलिस्ट 1000 लोगों के साथ बनाएं संबंध

सेक्स जेहाद की गोल्ड मेडलिस्ट 1000 लोगों के साथ बनाएं संबंध
सीरिया से लौटी आयशा को जब सऊदी अरब के मुफ़्तियों ने सेक्स जेहाद का मेडल दिया तो उसने कहाः मैं अपने इस कामियाबी का कारण अपनी एनर्जी, रात दिन की मेहनत और इस्लामी लड़ाकों (आतंकियों) की मेहनत को मानती हूँ

लेबनान के समाचार पत्र अलनहार ने सऊदी की 15 साला लड़की आयशा को सीरिया में जिहादे निकाह का विनर कहा है।

यह सऊदी लड़की जो कि तीन महीने पहले सीरिया गई थी, वहां से पलटने के बाद जब उसको सऊदी अरब के मुफ़्तियों ने जिहादे निकाह के मेडल दिया तो उसने कहाः मैं अपने इस कामियाबी का कारण अपनी एनर्जी, रात दिन की मेहनत और इस्लामी लड़ाकों (आतंकियों) की मेहनत को मानती हूँ

आयशा ने कहा कि जब मुझे वहाबी मुफ्ती मोहम्मद अलअरीफ़ी के इस फ़तवे का पता चला कि औरतें भी जिहादे निकाह के सिलसिले में सीरिया जा सकती हैं तो तब मैने इस देश की यात्रा की।

आयशा ने कहाः मैंने ईश्वर की प्रसन्नता प्राप्त करने के लिए यह जिहाद किया है और ईश्वर से चाहती हूँ कि वह मेरे इस जिहाद को स्वीकार करे।

आयशा कहती हैं कि मैं एक कुवारी लड़की थी लेकिन मैंने अपने क़ुवांरपन को जिहादे निकाह के माध्यम से इस्लाम पर क़ुर्बान कर दिया, और मैंने कई लोगों के साथ सम्बंध बनाए, और बहुत से लड़ाकों की मुश्किलों को हल किया,


इस लड़की ने आगे कहा कि मैंने सीरिया में 1000 लोगों के साथ सेक्स जिहाद किया और जिन लड़ाकों ने मेरे साथ जिहाद अलनिकाह (सेक्स जेहाद) किया है उनमें से अधिकतर अलजज़ाएर, इथियोपिया, चेचन और पश्चिम के थे, और इस समय मैं गर्भवति हूं और जानती हूँ कि मेरी संतान एक बहुत बड़ी मुजाहिद होगी।

जब आयशा से आतंकियों के बारे में प्रश्न किया गया तो उसने कहाः मुझे लगता है कि वह मोरचा जिसको अलनसरा, अलक़ायदा, इस्राईल, क़तर और दूसरे अरबी देशों ने बना रखा है वह सीरिया में हार का मुंह देखेगा, क्योंकि बहुत से मुजाहिद (आतंकी) सीरियाई सेना से डरते हैं और उनमें से बहुत से जंग छोड़कर भाग चुके हैं।

यह भी देखें सगी बहनों से भी कर सकते हो शादीः वहाबी मुफ़्ती

यह भी देखें पति की जानकारी के बिना पत्नी कर सकती है सेक्स जिहादः वहाबी प्रचारक

اشتراک گذاری: 

नई टिप्पणी जोड़ें

Fill in the blank.

تصادفی