सऊदी मुफ़्ती ने प्रसिद्ध सुन्नी यूनिवर्सिटी को इस्लाम का गद्दार बताया

आले शैख़
सऊदी अरब के मुफ़्ती आज़म आले अलशैख़ ने अलअज़हर मिस्र यूनिवर्सिटी और वाटिकन का पाप की मुलाक़ात की निंदा की है।

 

उन्होंने कहा यह मुलाक़ात इस्लामी दुनिया और इस्लामी सांस्कृति का अपमान है।

उन्होंने कहा, अलअलज़हर सच्चे इस्लाम का प्रतिनिधित्व नहीं करता है और उसके लीडरों का व्यवहार इस्लाम से ग़द्दारी है।

सऊदी अरब के मुफ़्ती आज़म ने कहा कि अलअज़हर का प्लान यहूदी और ईसाई प्लान है जो इस्लाम की पहचान को बदलना चाहता है। जैसे कि अल्लाह ने क़ुरआन में कहा है “यहूदी और ईसान कदापि तुम से प्रसन्न नहीं होगे अगर यह कि तुम उनके दीन का अनुसरण करो। कह दे कि अल्लाह का मार्गदर्शन ही सच्चा मार्गदर्शन है, और अगर उनको जानने के बाद उनकी ख़्वाहिशों का अनुसरण करो तो अल्लाह तुम्हारी सहायता करने वाला न होगा”

आले शैख़ ने कहा अलअहज़र और खुद मिस्र अपने पूरे इतिहास में महत्वपूर्ण और गंभीर मौकों पर हारा है।

اشتراک گذاری: 

नई टिप्पणी जोड़ें

Fill in the blank.