उत्तर कोरिया ने किया फ़िलिस्तीन का समर्थन, इस्राईल को दी दंड देने की धमकी

किम जोग
इस्राईली युद्ध मंत्री एविग्डर लेबरमैन द्वारा उत्तरी कोरिया के नेता किम जोंग उन की आलोचना पर कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए इस्राईल को निर्दयता के साथ दंडित करने की धमकी दी है।

 

 

अमरीका से तनातनी और युद्ध के संभावनाओं को देखते हुए उत्तर कोरिया ने चेतावनी दी है और इस्राईली युद्ध मंत्री एविग्डर लेबरमैन द्वारा उत्तरी कोरिया के नेता किम जोंग उन की आलोचना पर कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए इस्राईल को निर्दयता के साथ दंडित करने की धमकी दी है।

उत्तरी कोरिया का पलटवार

रशिया टूडे ने उत्तरी कोरिया के विदेश मंत्रालय के एक बयान के हवाले से रिपोर्ट दी है कि इस्राईल के युद्ध मंत्री ने उत्तरी कोरिया के नेता का अनादर किया है। बयान में अमरीका की सहायता से इस्राईल के परमाणु हथियार संपन्न होने की ओर इशारा करते हुए कहा गया है कि इस्राईल के गुप्तचर मंत्री ने अपने ग़ैर ज़िम्मेदाराना बयान में ऐसे आरोप लगाए हैं जो उत्तरी कोरिया की सरकार की मान्यताओं के विरुद्ध हैं।

उत्तरी कोरिया ने किया फिलिस्तीन का समर्थन

उत्तरी कोरिया के विदेश मंत्रालय ने अपने बयान में कहा है कि इस्राईल, मध्यपूर्व में एक अड़चन समझा जाता है जिसने अरब देशों के कई क्षेत्रों पर क़ब्ज़ा कर रखा है और अमानवीय अपराध कर रहा है। बयान के अनुसार उत्तरी कोरिया का दृष्टिकोण न्याय व शांति पर आधारित है इसलिए हमारा मानना है कि फ़िलिस्तीनियों का संघर्ष, अपने देश की स्वतंत्रता और अपनी सरकार के गठन के लिए किया जाने वाला संघर्ष है।

फिलिस्तीनी संगठनों ने की सराहना

वहीं फिलिस्तीनी प्रतिरोध संगठन हमास ने एक बयान जारी करके उत्तरी कोरिया के विदेश मंत्रालय की ओर से जारी किया गए बयान की सराहना की और कहा कि यह संगठन अतिग्रहणकारी ज़ायोनियों को आतंकवाद का प्रयोजक तक्षा क्षेत्र में अशांति का मूल कारण मानता है।

मध्यपूर्व में आतंकवाद के लिए इस्राईल जिम्मेदार

टीकाकारों का कहना है कि इस्राईल मध्यपूर्व में बढ़ते आतंकवाद के लिए मुख्य रूप से ज़िम्मेदार है और अपने ऊपर होने वाली आलोचनाओं को रोकने के लिए ईरान व उत्तरी कोरिया समेत अन्य स्वाधीन देशों पर निराधार आरोप लगाता रहता है।

इस्राईली युद्ध मंत्री की आलोचना

हालांकि इस्राईल के भीतर युद्ध मंत्री एविग्डर लेबरमैन की कड़ी आलोचना शुरू हो गई है। कई नेताओं ने कहा कि लेबरमैन के बड़बोलेपन और बेतुकी बयानबाज़ी ने इस्राईल की सुरक्षा को ख़तरे में डाल रखा है।

اشتراک گذاری: 

नई टिप्पणी जोड़ें

Fill in the blank.