बहरीन को लड़ाकू विमान बेचने पर ट्रम्प सरकार की निंदा

Human Rights Abuses in Bahrain
बहरीन के मानवाधिकार संगठन ने आले ख़लीफ़ा को युद्धक विमानों की बिक्री पर अमरीका की ट्रम्प सरकार की निंदा की है।

 

बहरीन के मानवाधिकार संगठन ने अपने आधिकारिक ट्वीटर हैंडल पर अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प द्वारा बहरीन के आले ख़लीफ़ा सासन को 19 युद्धक विमान एफ़16 की बिक्री की तीव्र निंदा की है।

बहरीन मानवाधिकार संगठन की रिपोर्ट के अनुसार इस संगठन ने ट्वीटर पर अपने आधिकारिक हैडल से ट्रम्प सरकार द्वारा किया जाने वाले इस ग़ैर क़ानूनी काम की निंदा की है।

टाइम्स समाचार पत्र ने शुक्रवार को ट्रम्प सरकार द्वारा बहरीन सरकार को युद्ध विमान बेचे जाने पर रिपोर्ट देते हुए लिखाः अमरीकी सरकार ने यह फैसला उस समय लिया है कि जब बहरीन में आले ख़लीफ़ा सरकार का रवय्या मानवाधिकार के प्रति चिंतित करने वाला है।

इस समाचार पत्र ने लिखाः ओबमा सरकार और बहरीन सरकार के बीच इस देश के शासन द्वारा 2011 में विरोधियों के दमन मतभेद हुए थे, लेकिन इसके बावजूद सऊदी अरब और संयुक्त अरब अमीरात ने विरोधियों के दमन में आले ख़लीफ़ा सरकार की सहायता की है।

जब कि बहरीन मानवाधिकार के उच्चायुक्त ज़ैद रअद अलहसन ने जनेवा में मानवाधिकार परिषद के 33वीं सम्मेलन के उद्घाटन भाषण में बहरीन में राजनीतिक कार्यक्रताओं और मानवाधिकार रक्षकों की गिरफ्तारी पर कहाः पिछले 10 सालों में बहरीन में जनता की विरोध की आवाज़ को दबाने और सुविधाएं दिए जाने के मामले में इस देश ने अपने सबसे बुरे साल देखे हैं।

बहरीन में कानूनी समुदाय के अनुसार, सार्वजनिक स्वतंत्रता का दमन, विश्वास प्रकट करने पर रोक, और बहरीनी नागरिकों पर ज़ुल्म एवं अत्याचार, विशेष कर शिया समुदाय पर अत्याचार जैसे 2016 में हुए हैं वैसे कभी नहीं हुए थे, और बहरीन के लोगों पर नया साल इस प्रकार आया है कि बहुत से बहरीनी नागरिक राजनीतिक जेलों में बंद है और उनके विरुद्ध अन्याय पूर्ण मुक़दमे चल रहे हैं।

اشتراک گذاری: 

नई टिप्पणी जोड़ें

Fill in the blank.