शेख़ ईसा क़ासिम पर अदालत का फैसला टला

ईसा क़ासिम नागरिकता मामला
बहरीन के वरिष्ठ धर्मगुरू शेख़ ईसा क़ासिम के मुक़द्दमे के सुनवाई शुरू होने के कुछ देर के बाद ही उसको 7 मई तक के लिए स्थगित कर दिया गया।

 

बहरीन कार्यकर्ताओं, जनता द्वारा शेख़ ईसा क़ासिम के समर्थन और प्रदर्शनों के कारण आले ख़लीफ़ा शासन ने उनके मुक़द्दमे की सुनवाई को जो आज (मंगलवार) को होने वाली थी को 7 मई तक के लिए स्थगित कर दिया है, रिपोर्ट में अधिक विवरण नहीं दिया गया है।

बहरीन के आले ख़लीफ़ा शासन ने 2016 में वरिष्ठ शिया धर्मगुरु शेख़ ईसा क़ासिम की नागरिकता रद्द कर दी थी, शासन के इस क़दम पर बहरीन और दुनिया के शियों की तीव्र प्रतिक्रिया दी है। बहरीन की जनता पिछले कुछ महीनों से लगातार प्रदर्शनों का आयोजन कर के शेख़ ईसा क़ासिम के विरुद्ध दिए गए आदेश की रद्द किए जाने की मांग कर रही है।

फ़रवरी 2011 से लगातार बहरीन में आले ख़लीफ़ा के विरुद्ध शांतिपूर्ण प्रदर्शन जारी है, बहरीन की जनता राजनीतिक सुधार, स्वतंत्रता, न्यान, भेदभाव के उन्मूलन और देश में डेमोक्रेसी की मांग कर रही है, लेकिन आले ख़लीफ़ा शासन ने शांतिपूर्ण प्रदर्शनों का उत्तर दमनकारी नीतियों से दिया है।

 

اشتراک گذاری: 

नई टिप्पणी जोड़ें

Fill in the blank.