दमिश्क़ में हज़रत सकीना के रौज़े के पास धमाका 40 ज़ाएर शहीद+ तस्वीरें

रौज़े के पास धमाका
सीरिया की राजधानी दमिश्क़ में इमाम हुसैन अलैहिस्सलाम की सुपुत्री हज़रत सकीना के पवित्र मज़ार के निकट हुए आतंकी हमले में 150 से अधिक लोग शहीद और घायल हुए हैं।

हमारे संवाददाता की रिपोर्ट के अनुसार सीरिया के बाबुस्सग़ीर इलाक़े में हज़रत सकीना के रौज़े के प्रवेश द्वार के निकट एक आतंकी विस्फोट हुआ जिसमें कम से कम 40 ज़ायरीन शहीद और 120 अन्य घायल हो गए। घायल होने वालों में से कई की स्थिति चिंताजनक है।

इस धमाके के बारे में अभी तक पूरी जानकारी नहीं मिली है लेकिन कुछ लोगों का कहना है कि एक आत्मघाती आतंकी ज़ायरीन के बीच छिप कर बैठा हुआ था और उसने अपने आपको धमाके से उड़ा लिया जबकि कुछ अन्य का कहना है कि ज़ायरीन की बस में दो बम लगा दिए गए थे और धमाका उन्हीं बमों के कारण हुआ।

जबकि सीरिया की सरकारी समाचार एजेंसी साना ने दमिश्क़ के पुलिस प्रमुख के हवाले से बताया है कि इस आतंकी हमले में बाबुस्सग़ीर क्षेत्र में दो धमाके हुए। दो आत्मघाती हमलावरों ने 15 मिनट के अंतर से विस्फोटकों से भरी अपनी बेल्ट उड़ा दी जिसके परिणाम स्वरूप 130 लोग शहीद और घायल हो गए।

 

रौज़े के पास धमाका
रौज़े के पास धमाका
रौज़े के पास धमाका
रौज़े के पास धमाका
रौज़े के पास धमाका
اشتراک گذاری: 

नई टिप्पणी जोड़ें

Fill in the blank.