ईदे मीलादुन्नबी हराम वहाबी मुफ़्ती + सबूत

ईदे मीलादुन्नबी हराम लेकिन आले सऊद के लिए जश्न वाजिबः मुफ़्ती
सऊदी अरब के मुफ़्ती आज़म शेख़ अब्दुल अज़ीज़ आले शेख़ ने पैग़म्बरे इस्लाम (स.) के जन्मदिवस के अवसर पर मनाए जाने वाले जश्न ईदे मीलादुन्नबी को इस्लाम को विरुद्ध शिर्क और ख़ुराफ़ात बताया है

सऊदी अरब के तकफ़ीरी वहाबी मुफ़्तियों ने पैग़म्बरे इस्लाम (स.) के जन्मदिवस पर ईदे मीलादुन्नबी के जश्न को हराम और शिर्क बताया है लेकिन सऊदी अरब पर आले सऊदी की हुकूमत की वर्षगांठ के जश्न को वाजिब बताया है।

टीवी शिया सऊदी अरब के मुफ़्ती आज़म शेख़ अब्दुल अज़ीज़ आले शेख़ ने पैग़म्बरे इस्लाम (स.) के जन्मदिवस के अवसर पर मनाए जाने वाले जश्न ईदे मीलादुन्नबी को इस्लाम को विरुद्ध शिर्क और ख़ुराफ़ात बताया है, लेकिन इसी मुफ़्ती ने सऊदी अरब पर आले सऊद की सत्ता की वर्षगाँठ जिसको आले सऊद ने राष्ट्रीय दिवस का नाम दिया है पर नया फ़तवा जारी किया है।

उन्होंने कहा है कि राष्ट्रीय दिवस पर अल्लाह के शुक्र का दिन है और इस दिन जश्न वाजिब है।

اشتراک گذاری: 

नई टिप्पणी जोड़ें

Fill in the blank.